पुदीना के औषधीय गुण (Mint Benefits)

Table of Contents

पुदीना के फायदे

Mint Benefits in hindi

पुदीना के औषधीय गुण

पुदीना का परिचय
Introduction of Pudina

आयुर्वेद में सदियों से पुदीने (Benefits of Mint) का इस्तेमाल औषधि के रुप में हो रहा है। पुदीना प्रकृति की अनोखी देन है। इसकी पत्तियों में बहुत ही सुगंधित खुशबू आती है। पुदीना का सेवन शरीर को बहुत ही ठंडक प्रदान प्रदान करता है। आयुर्वेद में पुदीना का पत्ता और पंचांग का प्रयोग सबसे ज्यादा होता है।

पुदीना (Pudina) सबसे ज्यादा अपने अनोखे स्वाद के लिए ही जाना जाता है। पुदीने की चटनी (pudina chatni) न सिर्फ खाने का जायका बढ़ाती है बल्कि यह स्वास्थ्य के लिए लाभकारी भी होता है। सामान्यतः पुदीने का उपयोग रायता, नींबू पानी, गन्ना के रस, चटनी बनाने, केरी पन्ना या कच्चे आम के पाना आदि में किया जाता है। इसके अलावा आयुर्वेद में औषधि के रूप में भी पुदीना का प्रयोग किया जाता है।

पुदीना क्या है?
What is Mint in Hindi?

पुदीना का पौधा की कई प्रजातियां होती हैं, लेकिन औषधि और आहार के लिए मेंथा स्पीक्टा लिन्न का प्रयोग किया जाता है। इस पुदीने को पहाड़ी पुदीना भी कहा जाता है। क्योंकि यह पहाड़ी इलाके में अधिक होता है। आयुर्वेद के अनुसार, पुदीना कफ और वात दोष को कम करता है, भूख बढ़ाता है। पुदीना का प्रयोग मल-मूत्र संबंधित रोगों और शारीरिक शिथिलता दूर करने के लिए करते हैं। यह दस्त, पेचिश, बुखार, पेट के रोग, लीवर आदि में लाभकारी होता है।

अन्य भाषाओं में पुदीना के नाम
Name of Mint in Different Languages

पूतिहा, रोचिनी, पोदीनक, पहाड़ी पुदीना, पुदीना, पोदिना, फूदीनो, फोदीना, गॉर्डेन मिंट (Garden mint), लैंब मिंट (Lamb mint), Spear mint (स्पिअर मिंट) आदि कई नामों से जाना जाता है। नेपाल में पुदीना को बाबरी के नाम से भी जाना जाता है।

पुदीने के फायदे
Pudina Benefits and Uses in Hindi

पुदीना एक बहुत कारगर औषधि है, जिसका सेवन बहुत से लोग औषधि के रूप में प्रयोग करते हैं। बहुत कम लोगों को पुदीना के बारे में पता है कि यह एक जड़ी बूटी है जो औषधि के रुप में काम आती है। पुदीना के कुछ आयुर्वेदिक फायदे है जो इस प्रकार दिए गए हैं –

बाल झड़ना रोकने में फायदेमंद पुदीना
Pudina Benefits in Hair Fall in Hindi

पुदीना के रस को नारियल के तेल में मिलाकर सिर में लगाने से बाल मजबूत बनते हैं, और सिर को ठंडक प्राप्त होती है। पुदीना में वातशामक गुण होते है जो बालों की रूसी को मिटाती है और बेजान बालों को झड़ने या टूटने से रोककर मजबूती प्रदान करती है, जिससे बाल प्राकृतिक रूप से बढ़ने लगते हैं।

और पढ़ें – कढ़ी पत्ता के फायदे

कान के दर्द में पुदीने के प्रयोग से फायदे
Pudina benefits in Ear Pain in Hindi

कान संबंधी रोगों में पुदीना के उपयोग से जल्दी आराम मिलता है। कभी-कभी ठंड लगने पर या कान में पानी चले जाने पर कान में दर्द होने लगता है, ऐसे में पुदीना के रस की 1 से 2 बूंद कान में डालने से आराम मिलता है।

और पढ़ें – तुलसी के फायदे

सिरदर्द में पुदीना के फायदे
Pudine Benefits in Headache in Hindi

अक्सर देखा जाता है कि कुछ लोगों को सिर दर्द की समस्या रहती है। कभी कभी भूख, धूल, शोर या धूप के कारण सिर दर्द हो जाता है। ऐसे में पुदीना की चाय बहुत ही फायदेमंद साबित होती है। इसके अलावा पुदीना के रस का मस्तक पर लेप करने से अथवा पुदीना के पानी से सिर धोने से ठंडक मिलती है।

पाचन को दुरुस्त रखे पुदीना
Pudina benefits in digestion in hindi

अपने दीपन पाचन गुण के कारण पुदीना खाने को अच्छी तरह से हजम करने में मदद करता है, जिससे पाचन तंत्र मजबूत होता है और भूख बढ़ती है। पुदीना के रस का नींबू पानी में सेवन करने से पेट की जलन समाप्त होती है और पाचन तंत्र भी दुरुस्त होता है।

और पढ़ें: मौसमी के फायदे

मुंह के छालों में पुदीना के लाभ
Mint leaves benefits in Ulcer in Hindi

पुदीने के पत्तों का काढ़ा बनाकर गरारा करने से मुंह के छाले की समस्या ठीक होती है।

और पढ़ें: हरड़ के फायदे

दांतों के दर्द में पुदीना के फायदे
Mint Benefits in Toothache in Hindi

पुदीना के पत्तों को सुखाना बहुत ही आसान है। पुदीने के पत्तों का चूर्ण बनाकर दांतों पर मंजन करने से दांतों के दर्द में लाभ मिलता है। पुदीने के औषधीय गुण (pudina ke fayde) दाँत दर्द को कम करने में मदद करते हैं।

और पढ़े – आयुर्वेद के नियम और परहेज

सांस की नली की सूजन करे कम पुदीना
Benefit of Mint to Get Rid of Respiratory Tract Inflammation in Hindi

ठंड के कारण सांस की नली पर आने वाली सूजन और गले के दर्द के लिए पुदीना बहुत ही लाभकारी औषधि है। इससे आराम पाने के लिए पुदीने के पत्ते का काढ़ा बनाकर 10-15 मिली सेवन करने से सांस की नली की सूजन में लाभ मिलता है।

अपच में पुदीना के फायदे
Benefit of Mint in Indigestion in Hindi

अक्सर पेट में गड़बड़ी होने पर अपच की समस्या होती है। इसमें नींबू, पुदीना तथा अदरक के 100-100 मिली रस लें। इसमें दोगुना मात्रा में शक्कर या मिश्री मिला लें। इसे एक बर्तन में पका लें। इस काढ़ा को 20 मिली मात्रा में सेवन करें। इससे अपच की समस्या ठीक होती है।

और पढ़े: आंवला के फायदे

उल्टी में लाभकारी पुदीने का सेवन
Mint Benefits in Vomiting in Hindi

उल्टी को रोकने के लिए पुदीना का सेवन करना लाभकरी होता है। अगर आप भी उल्टी की परेशानी से ग्रस्त हैं तो पुदीना के पत्तों का काढ़ा बना लें। इसे 10-20 मिली मात्रा में पीने से उल्टी बन्द हो जाती है।

और पढ़ें : बहेड़ा के फायदे

पेट की जलन में पुदीना के फायदे
Benefit of Mint in Burning Sensation in stomach in Hindi

पेट की जलन से छुटकारा पाने के लिए पुदीने के पत्तों का रस निकालकर नींबू पानी में मिलाकर सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से पेट की जलन समाप्त होती है और ठंडक का अहसास होता है।

और पढ़ें: सेब खाने के फायदे

त्वचा रोग में पुदीना के फायदे
Benefits of Pudina in Skin Disease in Hindi

कील मुंहासे या त्वचा पर होने वाले काले-धब्बों से छुटकारा पाने के लिए पुदीना के पत्तों को पीस लें। इसे दाग वाले जगह पर लगाने से काले धब्बे मिट जाते हैं। त्वचा संबंधी किसी भी समस्या में पुदीना के फायदे असरदार तरीके से काम करते हैं।

और पढ़े: घृतकुमारी के फायदे

पुदीना के सेवन से पेट की समस्या दूर करें
Mint benefits for Abdominal Disorder in Hindi

सामान्य तौर अनियमित और अनियंत्रित खान पान व तेज मसालेदार खाने से पेट में गड़बड़ी की समस्या हो जाती है। 10-15 मिली पुदीना के काढ़े में नमक तथा मरिच मिला लें। इसे पीने से पेट का रोग ठीक होता है।

पुदीना का काढ़ा या पुदीना की चाय बनाकर पीने से भी आराम मिलता है।

और पढ़े: अनार खाने के फायदे

दस्त में पुदीना के फायदे
Mint Juice to Fight Diarrhoea in Hindi

पुदीना के पंचांग का काढ़ा बना लें। इसे 10-20 मिली मात्रा में सेवन करें। इससे दस्त ठीक हो जाते हैं।

मूत्र रोग में पुदीना के फायदे
Uses of Mint in Urinary Disorder in Hindi

पेशाब में जलन या दर्द होने पर 500 मिग्रा पुदीना के पत्ते में 500 मिग्रा काली मिर्च को पीस लें। इसे छानकर मिश्री मिलाकर पुदीना की चाय की तरह पिएं। इससे मूत्र विकार ठीक होते हैं।

गठिया रोग में पुदीना के फायदे
Uses of Pudina in Joint Pain in Hindi

पुदीना के पत्तों का काढ़ा बना लें। इसे 10-20 मिली की मात्रा में पीने से गठिया का दर्द कम होता है।

और पढ़े: गिलोय के फायदे

घाव सूखाने के लिए पुदीना
Pudina for Healing Ulcer in Hindi

पुदीना के पत्तों को पीसकर उसका लेप करने से ना सिर्फ घाव से आने वाला दुर्गंध कम होता है, बल्कि घाव भी जल्दी भरता है। इसके अलावा पुदीना के पंचांग से बने काढ़े से घाव को धोने से भी घाव जल्दी भरता है।

बिच्छू के डंक मारने पर पुदीना का प्रयोग
Mint or Pudina for Scorpion Bite in Hindi

बिच्छु के काटने पर जो दर्द और जलन होता है, उससे राहत दिलाने में पुदीना मदद करता है। इसके लिए सूखा पुदीना के पत्तों को पीस लें। जिस जगह पर बिच्छु ने काटा है, वहां लगाने से दर्द और जलन कम होती है।

Pudina ke fayde in hindi

Pudina Ras ke fayde in hindi

Pudin Hara

 

 

 

 

Leave a Reply