Health Benefits of Coconut in Hindi | नारियल के फायदे

Table of Contents

परिचय

Introduction of Coconut

नारियल एक ऐसा फल है जो भारत में हिन्दू धर्म का सबसे पवित्र फल है। नारियल का फल बाहर से जितना सख्त होता है, वह उतना ही अंदर से कोमल होता है। यह एक बहुत ही स्वादिष्ट फल होता है। स्वादिष्ट होने के साथ साथ यह आयुर्वेद के दृष्टिकोण से बहुत ही लाभकारी औषधि है।

इस फल का उपयोग मंदिरों में पूजा के लिए किया जाता है। धार्मिक दृष्टिकोण से यह एक पवित्र फल है। मंदिर में भगवान के चरणों में नारियल का फल तोड़कर चढ़ाया जाता है तथा इस फल का प्रसादी के रूप में गृहण करने हिंदू धर्म में परंपरा है।

नारियल का उपयोगी भाग –

Useful Portion of Coconut in Hindi

वैसे तो नारियल के चमत्कारी गुणों के बारे में आप सभी सुना होगा। नारियल का फल, जल, तेल, बीज सभी आयुर्वेद में उपयोगी है। यह शरीर को स्वस्थ रखने में मददगार साबित होता है।

नारियल की विशेषता –

Specialty of Coconut in Hindi

सेहत को स्वस्थ रखने वाले पौष्टिक तत्वों से भरपूर नारियल का मात्र एक टुकड़ा रोज खाना चाहिए।
इसके खाने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता (Imunity System) बढ़ता है।
यह दिमाग को तेज करता है और स्मृति बढ़ाता है।
नारियल का पानी शरीर को ठंडक प्रदान करता है तथा शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है। यह ठंडी तासीर वाला फल है।
इसके साथ ही नारियल सौंदर्यता में निखार लाता है।

मान्यता –

Beliefs Related to Coconut in Hindi

कहते हैं कि गर्भवती महिला यदि प्रतिदिन नारियल का सेवन करे तो नवजात शिशु गोरा पैदा होता है।
इसके साथ ही यह भी माना जाता है कि यदि गर्भ धारण से पहले व गर्भधारण के समय कोई स्त्री नारियल के बीज या गिरी का सेवन करे तो उसे पुत्ररत्न की प्राप्ति होती है।
स्तनपान कराने वाली महिला को नारियल की गिरी का सेवन करना चाहिए, यह शिशु को पोषक तत्व प्रदान करता हैं।

नारियल कहाँ पाया जाता है?

Where is Coconut Grown in Hindi

वैसे तो नारियल भारत के कई राज्यों में उगाया जाता है। किन्तु मुख्य रूप से यह केरल, गुजरात, तमिलनाडु, गोवा, पश्चिम बंगाल, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, उड़ीसा, अंडमान निकोबार, दमन दीव, महाराष्ट्र आदि कई राज्यों में पाया जाता है।
नारियल की खेती समुद्री भागों वाले स्थानों पर की जाती है, जहां पृथ्वी की सतह के नीचे चट्टान नहीं हो। ऐसी भूमि नारियल के लिए उपजाऊ मानी जाती है। नारियल की खेती समुद्र किनारे की जाती है। इसके अलावा नमकीन मिट्टी वाली जगहों पर भी इसकी खेती की जा सकती है। नारियल की खेती के लिए उष्ण और उपोष्ण जलवायु सबसे उपयुक्त होती है।

नारियल क्या है ?

What is Coconut in Hindi

इसके पेड़ में आने वाला फल अंडाकार या गोल आकार का होता है। यह हरे या मटमैले रंग का पानी से भरा हुआ फल होता है। जो ऊपर से बहुत सख्त या कठोर होता है। नारियल का पेड़ लंबाई में 10 मीटर से भी अधिक होती है। यह 80 वर्ष से भी अधिक समय तक हरा भरा रहता है। नारियल का पेड़ सबसे लम्बे समय तक फल देने वाला पेड़ है। इसका तना पत्ती और शाखा रहित होता है।

नारियल के अन्य भाषाओं में नाम

Name of Coconut in Other Languages

नारियल के अनेकों नाम हैं। नारियल को खोपरा, नारियल, गोला, श्रीफल, Coconut, नारिकेल, महाफल, द्यढफल, कूर्चशीर्षक, गिरी, नारेला, नारल, कोकोनट पाम (Coconut palm), कोकोनट ट्री ( Coconut tree), कोकोनट आदि नामों से जाना जाता है।

नारियल के प्रकार –

Type of Coconut in Hindi

नारियल कई प्रकार के होते हैं। जो इस प्रकार है –

हरा या कच्चा नारियल –

Coconut Water Benefits in Hindi

यह पानी से भरपूर होता है, साथ ही इसमें मलाई भी निकलती है। यह हरे अथवा पीले रंग की मिट्टी जैसा होता है। इसे पानी वाला नारियल भी कहा जाता है।

पानी युक्त कठोर नारियल –

Nariyal Khane ke Fayde in Hindi

ऐसा नारियल मुख्य रूप से पूजा के रूप में लिया जाता है। इसके साथ साथ इस प्रकार का नारियल खाने, नारियल चटनी बनाने में किया जाता है।

सुखा नारियल –

Khopra Khane ke Fayde in Hindi

इस प्रकार के नारियल को खोपरा अथवा गोला कहा जाता है। यह नारियल मुख्य रूप से सूखे मेवे, तेल आदि के रूप में काम आता है।

नारियल खाने के फायदे –

Benefits of Coconut Water in Hindi

दिल को स्वस्थ रखे नारियल

Coconut Keep Healthy Heart in Hindi

नारियल की गिरी में बादाम, अखरोट व मिश्री मिलाकर प्रतिदिन सेवन करना चाहिए। नारियल में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा होने के कारण यह दिल को स्वस्थ रखता है।

नारियल के उल्टी में फायदे

Coconut Benefits in Vomiting in Hindi

यदि किसी को उल्टी हो रही है अथवा उल्टी जैसा लगता है तो नारियल का टुकड़ा चबाना चाहिए।
उल्टी के लिए नारियल के खोल की दाढ़ी को जलाकर शहद के साथ सेवन से लाभ मिलता है। ऐसा दिन में 2-3 बार करना चाहिए।

नकसीर में नारियल के फायदे

Benefits of Coconut in Noseblood in Hindi

गर्मियां शुरू होते ही कुछ लोगों को नाक से खून निकलने की समस्या शुरू हो जाती है, जिसे नकसीर या नकलोही कहते हैं।नकसीर में नारियल औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है। नारियल के साथ मिश्री का सेवन करने से नकसीर में आराम मिलता है।

मुंहासे होने पर नारियल के फायदे –

Benefits of Coconut in Acne and Pimples in Hindi

मुंहासे को दूर करने के लिए नारियल के पानी में ककड़ी का रस मिलाकर चेहरे पर लगाना चाहिए।

पेट के कीड़े खत्म करता है नारियल

Coconut kills Stomach Wroms in Hindi

सौंठ के पाउडर व खोपरा के बुर में मिश्री मिलाकर सुबह शाम सेवन करने से पेट के कीड़े खत्म हो जाते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है नारियल –

Coconut Boost Immunity in Hindi

नारियल पानी के सेवन मात्र से ही शरीर का इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होता है। इसके अलावा नारियल के टुकड़ों के सेवन से भी इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होता है। नारियल में एंटी बेक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी वायरल गुणों के कारण यह बीमारियों लड़ने की क्षमता बढ़ाते हैं।

सनस्क्रीम के रूप में नारियल के प्रयोग –.

Use of Coconut as a Sun Cream in Hindi

नारियल का तेल धूप में बहुत ही फायदेमंद होता है। दिन में धूप में निकलने से पहले गोला या नारियल का तेल चेहरे पर लगाना चाहिए, जिससे चेहरा चमकता रहता है। यह एक सनस्क्रीम का काम करता है।

Read more – Aloevera benefits

शरीर को ठंडक पहुंचाता है नारियल

Coconut Cools the Body in Hindi

नारियल पानी की तासीर ठंडी होती है। आयुर्वेद में भी इसके शीतल गुणों के बारे में बताया गया है। गर्मी के दिनों में इसे पीना सेहत के लिए लाभकारी होता है। यह शरीर की गर्मी को शांत करती है और शरीर को ठंडक पहुंचाती है।

किडनी की सूजन में नारियल के फायदे

Benefits of Coconut in Kidney Inflammation in Hindi

किडनी में सूजन एक गंभीर बीमारी है। आयुर्वेद के अनुसार कच्चे नारियल का पानी के सेवन से किडनी की सूजन को मिटाता है।

माइग्रेन के दर्द में नारियल के फायदे

Benefits of Coconut in Migraine Pain in Hindi

कच्चे नारियल का पानी माइग्रेन में होने वाले सिरदर्द में लाभ पहुंचाता है। नारियल के पानी को नाक में डालने से माइग्रेन का दर्द कम होता है।

मूत्र रोग में नारियल के फायदे

Benefits of Coconut in Urinary Diseases in Hindi

मूत्र रोग में नारियल फायदेमंद होता है। शरीर में मूत्र संबंधी कई तरह की बीमारियाँ बढ़ने का खतरा रहता है। इन रोगों में ब्लैडर में अशुद्धता, बार बार पेशाब आना, पेशाब में रूकावट जैसी समस्याएं शामिल हैं। नारियल पानी मूत्र संबंधी अंगों को शुद्ध करती है जिससे इन बीमारियों का खतरा कम होता है। इन समस्याओं के लिए नारियल पानी का सेवन चिकित्सक की सलाह पर भी कर सकते हैं।

Read more – Carrot benefits

बालों की मजबूती के लिए नारियल

Coconut Benefits in Hair Fall Problem in Hindi

नारियल के तेल को प्रतिदिन बालों में लगाने से बाल मजबूत, घने व काले होते हैं।

 

Leave a Reply