Brahma Rasayana- ब्रह्म रसायन के लाभ एवं सेवन विधि

Brahma Rasayana Uses and Benefits-

ब्रह्म रसायन के लाभ एवं सेवन विधि

Brahma Rasayan

Table of Contents

ब्रह्म रसायन के लाभ एवं सेवन विधि

Benefits and Uses of Brahma Rasayana

ब्रह्म रसायन एक आयुर्वेदिक औषधि है, यह अमृततुल्य औषधि है। जैसा कि नाम से ही प्रतीत होता है कि यह एक रसायन है, जो दिमाग को शांत, तेज व जागृत अवस्था में रखता है। मस्तिष्क की कोशिकाओं का निर्माण करके उन्हे मजबूती प्रदान करता है। ब्रह्म रसायन याददाश्त को तीव्र करता है। ऐसे में यह रसायन बहुत ही लाभकारी है।

इस रसायन का वर्णन, निर्माण की विधि, प्रयोग आदि का चरक संहिता में उल्लेख प्राप्त होता है, अन्य आयुर्वेद सम्बंधित ग्रन्थों जैसे- रस तंत्र सार, आयुर्वेद सार संग्रह आदि में भी ब्रह्म रसायन का वर्णन एवं निर्माण की विधि उपलब्ध है।

इसके निर्माण में तीन प्रकार के द्रव्य का मुख्य रूप से उपयोग होता है-

मूल द्रव्य

ताजी हरड़ जो पूर्ण रूप से पकी हुई हो, आँवला, शक्कर अथवा मिश्री एवं शुद्ध देशी गाय का घी आदि मूल द्रव्य है।

काढ़ा द्रव्य

शालपर्णी, पृष्ठपर्णी, छोटी कटेरी, बड़ी कटेरी, गोखरू, बेल छाल, अग्निमन्थ (अरणी) छाल, अरलूछाल, गम्भारी छाल, पाढल छाल, पुनर्नवा, मुद्गपर्णी, माषपर्णी, बला, एरण्ड, जीवक, ऋष्भक, मेदा, शतावरी, जीवन्ती, शर (नरकट), गन्ना, दर्भ, कुश, शाली धान्य आदि द्रव्य काढ़े के रूप में प्रयोग होते है।

प्रक्षेप द्रव्य

ब्राह्मी, पीपल, शंखपुष्पी, नागरमोथा, बड़ा मोथा (नदी किनारे का), वायविडंग, सफ़ेद चन्दन,अगर, मुलहठी, हल्दी, वच, नागकेशर, छोटी इलायची, दालचीनी आदि प्रक्षेप (चूर्ण के रूप) में मिश्रण किए जाते है।

ब्रह्म रसायन सेवन विधि

How to Use Brahma Rasayana

इसका सेवन एक चम्मच (5 से 7 ग्राम) मात्रा में, प्रातःकाल दूध या ताज़े पानी के साथ करें। इसका सेवन करने के बाद भोजन में दूध चावल की खीर या दूध चावल अवश्य खाएं। यदि 40 दिन तक सिर्फ दूध चावल में 1-2 चम्मच घी डाल कर सेवन करें तथा अन्य कुछ पदार्थ न खाएं तो विशेष और शीघ्र लाभ होता है। पाचन शक्ति को देखते हुए धीरे धीरे बढ़ा कर इसे 4 चम्मच तक सेवन किया जा सकता है। इस योग को प्रातःकाल सिर्फ एक बार उतनी ही मात्रा में सेवन करें जितनी मात्रा पचा सकें।

ब्रह्मा रसायन के लाभ-

Benefits of Brahma Rasayana in hindi

दीर्घायु प्रदान करता है ब्रह्म रसायन –

Brahma Rasayana gives long life in hindi

ब्रह्म रसायन का सेवन करने वाले व्यक्ति को नियमित दिनचर्या, उचित आहार-विहार और उत्तम आचार-विचार का पालन करना चाहिए। ब्रह्म रसायन का नियमित सेवन करने से मनुष्य दीर्घायु तक स्वस्थ, बलशाली और निरोगी बना रह सकता है।

उत्तम स्वास्थ्य प्रदान करता है ब्रह्म रसायन –

Brahma Rasayana – Provides perfect health in hindi

प्राचीन ऋषि गण उत्तम आचरण करते हुए ऐसे ही उत्तम योगों का सेवन कर दीर्घकाल तक स्वस्थ और पराक्रमी जीवन व्यतीत करते थे। इसी प्रकार वर्तमान में भी इन रसायनों के सेवन से व्यक्ति उत्तम स्वास्थ्य प्राप्त कर सकता है।

और पढ़ें – आम खाने के फायदे

फेफड़ों व किडनी को मजबूती प्रदान करता है ब्रह्म रसायन –

Brahma Rasayana strengthens the lungs and kidneys in hindi

यह रसायन ह्रदय, मस्तिष्क, फुकुस आमाशय, यकृत, प्लीहा, वृक्क आदि सभी अवयवों को निरोगी बना कर शरीर की काया पलट कर देता है।

और पढ़ें – नारियल के फायदे

ब्रह्म रसायन रोगप्रतिरोधक शक्ति बढाता है –

Brahma Rasayana increases immunity in hindi

यह रसायन शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाता है जिससे एलर्जी की शिकायत खत्म होती है और संक्रमण (Infection) के प्रभाव से शरीर सुरक्षित रहता है।

और पढ़ें – इम्युनिटी कैसे बढ़ायें

दिमागी कामकाज करने वालों के लिए ब्रह्म रसायन के फायदे-

Benefits of Brahma Rasayana to mentally fit in hindi

आयुर्वेद ने विविध प्रकार के श्रेष्ठ रसायन गुण वाले उत्तम योग प्रस्तुत किये हैं उनमें ब्रह्म रसायन, द्राक्षावलेह आदि मुख्य रसायन हैं। ब्रह्म रसायन एक उत्तम और सौम्य प्रकार का योग है जो छात्र-छात्रा, दिमागी काम करने वाले स्त्री-पुरुष, प्रौढ़ एवं वृद्ध सभी के लिए सेवन करने योग्य है।

स्मरण शक्ति बढ़ाता है ब्रह्म रसायन –

Brahma Rasayana enhances memory power

इसके नियमित सेवन से मेधा, स्मरण शक्ति, मनोबल आदि में वृद्धि होती है। जो स्मरण शक्ति को तेज करता है।

और पढ़ें – आयुर्वेद के नियम और परहेज

शारीरिक दुर्बलता को दूर करे ब्रह्म रसायन का सेवन –

Use of Brahma Rasayana to remove physical weakness in hindi

यह आयुर्वेदिक उपचार दोहरा लाभ करता है। इसके सेवन से जहां शरीर के विकार और दौर्बल्य के लक्षण दूर होते हैं, वहीं दूसरी ओर शरीर में मौजूद रोग दूर होते हैं और शरीर में नया बल, स्फूर्ति, कान्ति, वीर्यधारण शक्ति तथा ओज में वृद्धि करता है।

और पढ़ें – गाजर खाने के फायदे

वीर्यवर्धक व शुक्राणु के निर्माण में ब्रह्म रसायन के फायदे –

Benefits of Brahma Rasayana in increase of sperm count in hindi –

कुसंगतियों, अधिक चिन्ता व किसी अन्य प्रकार से वीर्यनाश करने से उत्पन्न हुई शुक्राणु क्षीणता एवं शारीरिक दुर्बलता को दूर करने के लिए यह योग अत्यन्त लाभकारी है।

और पढ़ें – पुदीना के फायदे

नोट –

ब्रह्म रसायन एक आयुर्वेदिक औषधि है, इसे चिकित्सकीय परामर्श लेकर ही उपयोग करें।

By Aayushyamaan Bhav

 

 

Leave a Reply