Category: वास्तु शास्त्र

Shubh Muhurt – ये है शुभ और अशुभ फल देने वाली तिथियां

Shubh Muhurt, Ashubh Muhurt शुभ और अशुभ फल देने वाली तिथियां ज्योतिष शास्त्र में किसी भी कार्य को आरंभ करने से पूर्व शुभ और अशुभ घड़ियां / तिथियां (Shubh Muhurt…

AKSHYA TRITIYA – अक्षय तृतीया पर करे यह उपाय, खुल जायेंगे भंडार,

खुल जायेंगे भंडार, अक्षय तृतीया पर करे यह उपाय अक्षय तृतीया क्या है?What is Akshya Tritiya? वैशाख मास (Baishakh) शुक्ल पक्ष (Shukla Paksha) की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया (Akshya…

Holika Dahan | सुख समृद्धि के लिए होली पर करें ये उपाय

होली पर करें ये उपाय, बनी रहेगी सुख समृद्धि किसी भी शुभ कार्य को करने से पूर्व भद्रा (Bhadra) योग का ध्यान किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि…

देवगुरु बृहस्पति, बदलेगा कईयों का भाग्य, होगा सबको लाभ

देवगुरु बृहस्पति राशि परिवर्तन ज्योतिष शास्त्र में देवगुरु बृहस्पति एक बहुत महत्वपूर्ण ग्रह है। यह धनु व मीन राशि के स्वामी हैं, साथ ही कर्क राशि में उच्च के मकर…

Vastu Dosh | मन्त्र के जाप से दिशा का होगा वास्तु दोष दूर

वास्तु दोष क्या है?What is Vastu Dosha? आजकल शायद ही कोई ऐसा घर हो जो वास्तु दोष से मुक्त हो। वास्तु दोष का प्रभाव कई बार देर से होता है,…

मकर सक्रांति पर 59 वर्ष बाद पंच ग्रही योग

मकर सक्रांति पर 59 वर्ष बाद पंच ग्रही योग 14 जनवरी मकर सक्रांति (Makar Sankranti) को पंच ग्रह योग बनेगा 59 वर्ष ओर 118 वर्ष बाद मकर राशि में पंच…

mauli or kalava | कलावा (मौली) क्यों बांधते हैं?

कलावा (मौली) का परिचय Introduction to Mauli or Kalava कलावा बांधना वैदिक परंपरा का हिस्सा है। इसे लोग कलावा (mauli or kalava) भी कहते हैंl यज्ञ के दौरान इसे बांधे…

Original Crystal Quartz Diamond | असली स्फटिक की पहचान

असली स्फटिक की पहचान Original Crystal Quartz Diamond identification मार्केट में स्फटिक (Original Crystal Quartz Diamond) के नाम पर कांच की या प्लास्टिक की मालाएं मिलती हैं। लेकिन स्फटिक एक…

अधिकमास में निंदित कार्य

अधिकमास में निंदित कार्य मलमास के रूप में निन्दित इस अधिक मास को पुरूषोत्तम ने अपना नाम देकर कहा है कि, अब मैं इस अधिक मास का स्वामी हो गया…