dates.jpg

Health Benefits of Dates | खजूर और छुहारे खाने के फायदे

Table of Contents

खजूर का परिचय
Introduction of Date Palm in Hindi

यह एक गुणकारी फल है। यह गर्म तासीर वाला फल होता है। खजूर (Health Benefits of Dates) खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही यह स्वास्थ्य के लाभकारी होता है। खजूर को फल के अलावा औषधि के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। वैसे तो खजूर के फल को स्वाद के लिए खाया जाता है लेकिन उपचार या औषधि के रूप में प्रयोग करने के लिए चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

खजूर के अन्य नाम
Dates Name in Different Language in Hindi

खजूर के अन्य नामों में खारीक (Khaarik), पिंड खजूर, सूखने पर छुहारा व डेट (Date) प्रमुख है।
dates.jpg
Palm Dates (Chhuhara)

खजूर या छुहारा का पेड़ कैसा होता है?
What is a date palm or date palm tree like?

यह एक ताड़ प्रजाति का वृक्ष है, जो सीधा खंभे की तरह ऊपर की ओर बढ़ता है। खजूर के पेड़ की ऊंचाई लगभग 35 से 55 फीट होती है। खजूर के पेड़ की पत्तियां 8 से 10 फीट लंबी एवं नुकीली होती है जो आगे कांटेदार लगती है। इस वृक्ष के फूल छोटे छोटे होते है जो एकलिंगी होते है। खजूर के पेड़ पर लगने वाले फल लाल व पीले रंग के होते है। लाल खजूर खाने में थोड़े मीठे व हल्के कसैले लगते है और पीले रंग के खजूर फल अधिक मीठे व स्वादिष्ट होते है। फल लगभग एक इंच लम्बा होता है और यह गुदादर होता है, जिसमें लंबा बीज भी निकलता है। खजूर के एक पेड़ में लगभग 60-65 किलो ग्राम फल लगते है।

खजूर की खेती कहां होती है?
Date Palm Grows (Cultivated) in Which Area in Hindi

खजूर के पेड़ मुख्य रूप से अरब देशों में, अफ्रीका व पश्चिमी एशिया में पाया जाता है। पश्चिमी एशियाई देशों में यह नेपाल, दक्षिणी भारत, श्रीलंका व पाकिस्तान में उगाया जाता है। भारत के दक्षिणी हिस्से, गुजरात, बिहार, बंगाल व राजस्थान के जोधपुर में बड़ी मात्रा खजूर का उत्पादन किया जाता है।

खजूर में पाए जाने वाले पोषक तत्व
Date Palm Nutrition in Hindi

इसको सुखाकर सूखे मेवे बनाए जाते हैं। खजूर (Health Benefits of Dates in Hindi) के पेड़ से सफेद रस निकलता है, जिससे गुड़, सिरका व शराब बनाए जाते है। खजूर की पत्तियां झाडू व रस्सी बनाने में प्रयोग की जाती है। खजूर शरीर के लिए पोषण व ऊर्जा का स्रोत है। एक किलो ग्राम खजूर में 3000 कैलोरी, 5 से 11 प्रतिशत फाइबर, 50 से 90 प्रतिशत सुगर, 7 विटामिन और 15 तरह के मिनरल्स एवं कार्बोहाइड्रेड होता है। खजूर को औषधि के रूप में हीमोग्लोबिन को बढ़ाने में, कब्ज, हृदय आदि में प्रयोग किया जाता है।

खजूर के फायदे –
Health Benefits of Dates In Hindi

शारीरिक शक्ति या इम्युनिटी बढ़ाने में खजूर के फायदे –
Benefits of Dates in Increasing Physical Strength or Immunity in Hindi

  • बादाम, पिस्ता व मिश्री के साथ खजूर का सेवन करने से शारीरिक शक्ति बढ़ती है। यह शरीर के लाभकारी होता है।
  • सूखे मेवे के रूप में छुहारे व मोटी दाख को दूध में उबालकर  रख दें। रात को सोते समय गुनगुने दूध के साथ उबली हुई दाख़ व छुहारे को खाने से शरीर हष्ट पुष्ट होता है और शारीरिक कमजोरी दूर होती है।

और पढ़ें – अश्वगंधा के फायदे

दांत दर्द में खजूर के फायदे –
Health Benefits of Dates in Toothache in Hindi

  • खजूर के पेड़ की छाल या जड़ की राख से मंजन करने से दांत दर्द मिट जाता है।
  • खजूर के गुदे का काढ़ा या क्वाथ बनाकर कुल्ला करने से दांत दर्द में लाभ मिलता है तथा मसूड़ों में राहत मिलती है।

और पढ़ें –हल्दी के गुण

जुकाम में लाभकारी खजूर –
Date Palm Medicinal Benefits in Cold in Hindi

  • लकड़ी की आग में या तवे पर छुहारे को सेंक कर खाने से शरीर को गर्मी मिलती है, जिससे जुकाम में आराम मिलता है।
  • जुकाम होने पर दूध में छुहारे उबालकर पीने से लाभ मिलता है। ऐसा प्रतिदिन करने से शारीरिक ताकत बढ़ती है।

और पढ़ें – नींबू के फायदे 

खांसी में खजूर के फायदे –
Health Benefits of Dates in Cough in Hindi

  • मौसम परिवर्तन के साथ साथ खांसी सबसे पहले होने वाला रोग है। खांसी से बचने के लिए खजूर के साथ अंगूर को घी में सेंक लें। इसमें पीपली चूर्ण के साथ मिश्री मिलाकर शहद के साथ सेवन करने से खांसी में आराम मिलता है।
  • सूखी खांसी होने पर सतावरी चूर्ण व मिश्री के साथ छुहारे को दूध में उबालकर पीने से आराम मिलता है।

उल्टी होने पर खजूर के फायदे –
Benefits of Dates on Vomiting in Hindi

उल्टी होने पर खजूर के गुदे के साथ पीपली चूर्ण को शहद व मिश्री के साथ खाने से उल्टी में आराम मिलता है।

और पढ़ें – बील के फायदे

हिचकी आने पर खजूर के फायदे –
Benefits of Dates in Case of Hiccups in Hindi

हिचकी आने पर खजूर के गुदे में पीपली चूर्ण को शहद के साथ खाने से हिचकी में लाभ मिलता है।
और पढ़ें – केले के फायदे

रक्तमेह या मूत्र में खून आना –
Hematuria or Urine Bleeding in Hindi

  • तिंदुकास्थी, गिलोय, खजूर व गंभारी के काढ़े को पीने से रक्तमेह में आराम मिलता है। इसका सेवन शहद के साथ किया जाना चाहिए।
  • खजूर के रस में मिश्री मिलाकर पीने से मूत्र रोग में लाभ मिलता है।

और पढ़ें –एलोवेरा के गुण 

इन सब औषधीय प्रयोगों के अलावा खजूर या छुहारे के लाभ खाने के रूप में तथा अचार आदि बनाने में किया जाता है। इसका अचार बनाने के लिए छुहारे या खजूर को नींबू के रस में गलाकर रख दे तथा अचार में प्रयोग होने वाले मसाले डाल कर रख दें। इसका सेवन करने अरुचि मिटती है और पाचन शक्ति मजबूत होता है। इसके अलावा छुहारे की मीठी चटनी भी बनाई जाती है जो अधिकांशतः शादी विवाह, पार्टी आदि में चाट मसाले के रूप में प्रयोग की जाती है।

और पढ़ें – आंवला एक – फायदे अनेक

Leave a Reply